Web Hosting Kya Hai और अपने ब्लॉग के लिए अच्छी Hosting कैसे खरीदें?

Web Hosting Kya Hai:अगर आपने Blogging या Web Designing के बारे में पढ़ा होगा तो होस्टिंग के बारे में जरूर सुना होगा। क्योंकिं Web Hosting के बिना Blogging या Web Designing हो ही नहीं सकती है।

अगर आप नहीं जानते हैं की वेब होस्टिंग क्या है? वेब होस्टिंग के प्रकार, होस्टिंग खरीदने से पहले किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

तो यह पोस्ट आपके लिए ही है क्योंकि इस पोस्ट में इन सबके बारे में A2Z Step by Step हिंदी में बताने वाला हूँ।

किसी के पास उसकी खुद की एक वेबसाइट होना एक बड़ी बात है। उस वेबसाइट को Maintain कर पाना उससे भी बड़ी बात है।

इसके लिए आपके पास सही जानकारी का होना बहुत जरूरी है। तो ज्यादा समय न लेते हुए सीधा चलते हैं अपने टॉपिक Web Hosting क्या है? पर और इसके बारे में विस्तार से जानने की कोशिश करते हैं।

Web Hosting क्या है? (वेब होस्टिंग क्या है)

Web Hosting Kya Hai
Web Hosting Kya Hai

Internet पर मौजूद एक ऐसा Space जो बहुत सी Websites को कुछ पैसों के बदले Content, Files, Manages, Videos, आदि को Store करने की सेवा प्रदान करती हैं। जिसके बाद कोई इंटरनेट युजर उस डाटा को एक्सेस कर पाता है।

अब अगर इसे आसान भाषा में समझे तो हमें किसी Computer अथवा Mobile में अपना डाटा जैसे Photo, Video, ऑडियो आदि को Save करने के लिए Hard Disk अथवा Memory की जरूर पड़ती है।

ठीक इसी तरह किसी भी Website के डाटा को सुरक्षित रखने के लिए जिस Space की जरूरत होती है। उसे Web Hosting कहते हैं।

Space से मेरा मतलब एक ऐसे Special Computer से है जिस पर किसी वेबसाइट का डाटा स्टोर होता है। यह Computer 24×7 Internet से Connected रहता है। जिससे हमारी Website हमेशा Live रहती है।

Hostinger, Godaddy, Bluhost, Hostgator etc. ऐसे बहुत सारी कंपनियां हैं जो होस्टिंग की सर्विस प्रदान करती हैं और इन्हें Web Host कहा जाता है।

Web Hosting कैसे काम करती है?

जब कोई भी व्यक्ति अपना Blog या Website बनाता है, तो उसका मुख्य उद्देश्य होता है अपने Content (Content, Photo, Video Files) को इंटरनेट की मदद से दुनिया भर के लोगों तक पहुंचाना और उसको ऐसा करने में वेबहोस्टिंग मदद करती है।

क्योकि उस व्यक्ति को यह सारा कंटेंट वेबहोस्टिंग में अपलोड़ करना पड़ता है। इसके बाद जैसे ही कोई Internet यूजर अपने लैपटॉप या मोबाइल का ब्राउज़र (Mozilla Firefox, Google Chrome, Opera) पर आपका Domain Name ( https://a2zhindime.com ) डालकर सर्च करता है।

वैसे ही इन्टरनेट आपके डोमेन नेम को उस वेब सर्वर से जोड़ देता है जहां पर आपकी Website का सारा डाटा मौजूद होता है।

इसके बाद उस यूजर को आपकी Website पर जो जानकारी मौजूद होती है। उसे मिल जाती है। अब वह आपकी Website पर अपने हिसाब से पेज Open करता है और ज्ञान हासिल करता है।

डोमेन नेम को Web Hosting से जोड़ने के लिए जिस Technique का इस्तेमाल किया जाता है। उसे DNS (Domain Name System) कहा जाता है।

जिससे डोमेन को यह पता चल जाता है की आपकी वेबसाइट का सारा डाटा किस Web Server में Store है। क्योंकि सभी Web Server का DNS अलग-अलग होता है।

Web Hosting कितने प्रकार की होती है?

यहाँ तक आप यह अच्छी तरह से समझ गए होंगे की Web Hosting Kya Hai? इसके बाद मैं आपको इसके प्रकार के बारे में बताने वाला हूँ।

आज के समय में Internet पर बहुत तरह की Web Hosting मौजूद हैं। यहाँ पर मैं आपको मुख्य 5 Web Hosting के बारे में बताने वाला हूँ। जिनके बारे में आप नीचे पढेंगे।

  • Shared Hosting
  • Dedicated Hosting
  • VPS Hosting
  • Cloud Hosting
  • Manage WordPress Hosting

#1 – Shared Hosting

जैसा की नाम से ही पता चल रहा है की यह किस प्रकार की Web Hosting है। इस प्रकार की वेब होस्टिंग पर बहुत सी Website का डाटा एक सर्वर पर ही Store होता है।

जिससे इस प्रकार के होस्टिंग की कीमत काफी कम होती है। जिसके कारण इस Hosting को Shared Hosting कहा जाता है।

अगर इसे आसान भाषा में समझे तो जब आप किसी दूसरे शहर में काम करने जाते हैं, तो वहां पर आप एक ही कमरा लेकर कई लोग एक साथ रहते हो, जिससे आपका किराया कम पढता है। ठीक इसी तरह यह Hosting काम करती है।

अगर आप Blogging में नए हैं तो आप इस होस्टिंग का उपयोग कर सकते हैं, क्योंकि नया ब्लॉग होने के कारण आपके ब्लॉग पर ज्यादा ट्रैफिक नहीं आयेगा।

जिससे आपको इस Hosting में दिक्कत नहीं होगी। वहीं अगर आपका ब्लॉग पापुलर हो जाता है, तो उसके बाद आपके Blog पर बहुत अधिक Traffic आने लगेगा। तक जाकर इस हिस्टिंग में आपको थोड़ी दिक्कत देखने को मिल सकती है।

Shared Hosting के फायदे

  • इस प्रकार की वेब होस्टिंग की कीमत बहुत कम होती है क्योंकि यह एक Shared Hosting होती है।
  • इस तरह की होस्टिंग नए Blogger के लिए सही रहती है, क्योकि उनके ब्लॉग पर ट्रैफिक कम आता है और शुरू में उनके पास पैसा कम होता है।
  • इसको Setup करना बहुत आसान होता है।

Shared Hosting के नुकसान

  • इस प्रकार की वेब होस्टिंग में बहुत सारी Limited Resources Access देखने को मिलती हैं।
  • जब आपके ब्लॉग पर अधिक Traffic आता है, तो उसकी Performance UP Down होती रहती है।
  • Shared Hosting में आपको Support बहुत अच्छा नहीं मिलता है।
  • इस होस्टिंग में आपको सुरक्षा हाई लेवल की नहीं मिलती है।

#2 – Dedicated Hosting

Dedicated Hosting में एक वेबसाइट के लिए पूरा सर्वर मिलता है। यह होस्टिंग शेयर्ड होस्टिंग की अपेक्षा पूरी तरह उलटी होती है।  

इस प्रकार की Hosting का सारा कंट्रोल Website के मालिक के हाथ में होता है। इस तरह की होस्टिंग का सर्वर बहुत ही Fast होता है। जिसके कारण इसकी कीमत बहुत अधिक होती है।

अगर इसे आसान भाषा में समझे तो किसी कमरे को किराए पर लेते हो। जिसमे आप किसी को आने नहीं देतो हो उसकी सारी जिम्मेदारी आपके हाथ में होती है। जिसके कारण वह कमरा आपको महंगा भी पडेगा। ठीक यह हाल इस होस्टिंग का है।

जो व्यक्ति या कंपनियां E-commerce Site बनाते हैं वो इस तरह ही होस्टिंग का इस्तेमाल करते हैं।

Dedicated Hosting के फायदे

  • इस होस्टिंग पर बनें ब्लॉग या वेबसाइट का पूरा Control और Flexibility उसके मालिक को दिया जाता है।
  • Shared Hosting की तुलना में आपको इस वेब होस्टिंग में ज्यादा Security देखने में मिलती है।
  • यह सबसे Fast होस्टिंग होती है. जिससे आपके ब्लॉग का Performance Stable रहता है।
  • इस पर बनें ब्लॉग पर उसके मालिक का पूरा Access मिलता है।

Dedicated Hosting के नुकसान

  • यह होस्टिंग Shared Hosting की तुलना में महंगी होती है।
  • जब आपको थोड़ा बहुत Technical का ज्ञान होगा तभी आप इस होस्टिंग का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इस प्रकार की होस्टिंग में यदि आपको कोई समस्या आती है, तो आपको Technicians की आवश्यकता होती है।

#3 – VPS Hosting

इस प्रकार की होस्टिंग में सर्वर तो एक ही होता है, लेकिन इसे अलग-अलग Virtual Server में वांट दिया जाता है। जिसके कारण इसे Virtual Privet Server कहा जाता है।

इस होस्टिंग में किसी भी वेबसाइट को Space दिया जाता है। उसे सिर्फ वही यूज कर सकता है. दूसरा कोई उसका प्रयोग नहीं कर सकता है।

अगर आसान भाषा में इसे समझे तो किसी पिता के 4 बेटे होते है. वह अपने 4 घर बनवाता है और सभी बेटों को एक-एक घर दे देता है।

अब जिस बेटे को जो घर मिला है वह उसी घर में रहेगा। वह दुसरे के घर में जाकर नहीं रहेगा या दूसरा उसके घर में नहीं रहेगा।

जब आप उस प्रकार की होस्टिंग पर ब्लॉग बनाते हैं, तो उसको अच्छी Security और Performance मिलती है। इसलिए इसकी कीमत शेयर्ड होस्टिंग की तुलना में अधिक होती है।

अगर आपको कम कीमत में Dedicated Hosting जैसे Server और Better Performance चाहिए तो आपक VPS Hosting को खरीद सकते हैं।

VPS Hosting के फायदे

  • इस होस्टिंग पर बनी वेबसाइट बहुत ही अच्छा Performance करती है।
  • इस होस्टिंग में भी आपको Full Control मिलता है।
  • यह होस्टिंग काफी ज्यादा Flexible होती है। इसमे आप Storage , Bandwidth को अपने अनुसार बढ़ा या घटा सकते हो।
  • इस होस्टिंग पर बनें ब्लॉग में आपको सुरक्षा बहुत ही बेहतर होती है।
  • इसमे आपको Support काफी अच्छा मिलता है।

VPS Hosting के नुकसान

  • इस होस्टिंग में Dedicated Hosting की अपेक्षा कम Resources मिलता है।
  • इस होस्टिंग को अक्छे से ऑपरेट अरने के लिए आपको टेक्निकल नॉलेज की जरुरत पड़ती है।

#4 – Cloud Hosting

जब आप इस होस्टिंग का इस्तेमा करते हैं, तो इसका सर्वर आपकी वेबसाइट के कॉपी क्लाउड बनाकर उन्हे अलग-अलग लोकेशन के सर्वर पर Store करता है।

इससे आपके ब्लॉग या वेबसाइट की स्पीड कभी कम नहीं होती है। ज्यादातर ब्लोगर Cloud Hosting का ही इस्तेमाल करते हैं।

यह होस्टिंग सभी होस्टिंग की तुलना में काफी अलग है। ऊपर दी हुई Web Hosting में आपके वेबसाइट का डाटा एक ही सर्वर पर Store होता है। पर इस Web Hosting पर आपके डाटा की कॉपी दुसरे सर्वर पर भी बन जाती है।

Cloud Hosting के फायदे

  • आपकी Website पर Traffic कितना ही क्यों वह कभी Slow नहीं होगी।
  • इसका उपयोग करने से आपके Blog की स्पीड बढ़ जाता है।
  • यह होस्टिंग बहुत सिक्योर होती है।

Cloud Hosting के नुकसान

  • इस होस्टिंग में आपको रूट एक्सेस की सुविधा नहीं मिलती है।
  • यह वेब होस्टिंग अन्य होस्टिंग की अपेक्षा बहुत महंगी होती है ।

#5 – Manage WordPress Hosting

इसे आप एक तरह से Shared Hosting की तरह ही समझ सकते हैं। ज्यादातर नए ब्लॉगर इसी होस्टिंग का इस्तेमाल करते हैं।  

क्योंकि इस होस्टिंग में ब्लॉग मैंनेज नहीं करना पड़ता है। यह होस्टिंग खुद व खुद आपकी वेबसाइट को मैनेज करती है। जैसे Hosting में Technical Work, Website की Speed मेंटेन करना।

Blog का Backup लेना आदि। बस इसके लिए आपको कुछ पैसे ज्यादा खर्च करने पढेंगे।

Manage WordPress Hosting के फायदे

  • इस तरह की Web Hosting में आपको अपनी Website के Technical Work नहीं करना पड़ता है।
  • इसमे आपको काफी अच्छी सुरक्षा दी जाती है।
  • इसका कस्टमर सपोर्ट काफी होता है।

Manage WordPress Hosting के नुकसान

  • Manage Hosting, Shared Hosting से थोड़ी बहुत महँगी होती है क्योंकि इसमें आपको सारा मैनेज मिलता है।
  • इस Hosting पर आप विश्वशनीय Plugin का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं।

Window Hosting और Linux Hosting में अंतर

Web Hosting खरीदते समय वहां पर आपको 2 Option मिलते हैं। एक Window Hosting तथा दूसरा Linux Hosting का।

ज्यादातर Website Linux Hosting का ही प्रयोग करते हैं। यहाँ मैं आपको Window Hosting और Linux Hosting में क्या अंतर होता है. उनके बारे में बताने वाला हूँ।

Linux Hosting एक ऐसा Source है। जिसे कोई भी Use कर सकता है, तो वहीँ Windows Hosting का Use करने के लिए आपको License की जरूरत पड़ती है।

Linux Hosting बहुत ही सस्ती Web Hosting होती है। इसके उलटा Windows Hosting बहुत ही महँगी Web होती है। क्योकिं इसमे आपको License के लिए पैसे देने पड़ते हैं।

वर्डप्रेस के लिए इस होस्टिंग का इस्तेमाल किया जाता है। इस प्रकार की होस्टिंग में PHP , MYSQL डेटाबेस का इस्तेमाल किया जाता है। वहीं Windows Hosting में ASP , .NET का इस्तेमाल किया जाता है।

Web Hosting कहाँ से ख़रीदे?

यदि आपने यहाँ तक इस लेख को अच्छे से Read किया होगा, तो आपको Web Hosting Kya Hai ? बहुत अच्छे से समझ में आ गया होगा।

अब मैं बताउंगा की Web Hosting कहाँ से ख़रीदे? आज के समय में Internet पर बहुत ऐसी Hosting Websites मौजूद हैं।

जहाँ पर आपको बहुत कम कीमत में काफी अच्छी होस्टिंग मिलती है। मैंने नीचे कुछ सबसे अच्छी Hosting के नाम दिये हैं जहाँ से आप होस्टिंग खरीद सकते हैं।

  • Bluehost
  • Hostinger
  • Hostgator
  • Cloudways
  • A2 Hosting
  • Godaddy

सबसे अच्छी Web Hosting कैसे खरीदें?

किसी भी प्रकार की वेब होस्टिंग खरीदने से पहले आपको एक बार निम्नलिखित चीजों को ध्यान से चेक करना चाहिए।

#1 – Storage

वेब होस्टिंग में Storage बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। होस्टिंग में जितना अधिक स्टोरेज होगा आपका ब्लॉग उतना अच्छा प्रदर्शन करता है। इसके अलावा आपकी होस्टिंग की Disk कभी Full होने का खतरा नहीं रहेगा।

#2 – Uptime

Website को ऑनलाइन में होने में जितना समय लगता है। उसे Uptime कहा जाता है। ज्यादातर वेब होस्टिंग कंपनिया 99.99 % Uptime की गारंटी देती है। इसलिए आपको होस्टिंग खरीदने से पहले Uptime को चेक जरूर करें।

#3 – Bandwidth

किसी भी Website का एक सेकेण्ड में जितना डाटा Access किया जा सकता है। इसे ही Bandwidth कहा जाता है, कोई भी होस्टिंग खरीदने से पहले आपको इसे एक बार चेक जरूर कर लेना चाहिए।

#4 – Customer Support

किसी भी Web Hosting यह काफी महत्वपूर्ण हो जाता है की उनका Customer Support कैसा है क्योंकि आज के समय में सभी होस्टिंग कंपनी 24 *7 का Customer Support देती है, लेकिन ऐसा होता बिलकुल नहीं।

#5 – Money Back Policy

आप कोई भी वेब होस्टिंग खरीदने से पहले Money Back Policy को जरूर चेक कर लें। लगभग सभी कम्पनियां Money Back Policy देती हैं।

इससे आपको यह फ़ायदा होगा की अगर होस्टिंग में कोई समस्या आ रही है, तो आप उसे वापस करके अपने रुपये पा सकते हैं।

FAQ – Web Hosting Kya Hai

गूगल पर वेब होस्टिंग से संबंधित अक्सर निम्नलिखित कुछ प्रश्न सर्च किए जाते हैं।

Q1. Hosting क्या होती है?

Internet पर मौजूद एक ऐसा स्थान जहाँ पर किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट का डाटा सुरक्षित होता हैं। इसी Space को वेब होस्टिंग कहा जाता है।

Q2. क्या Hosting खरीदना जरूरी है?

WordPress पर ब्लॉग बनाने के लिए Hosting और Domain Name खरीदना जरूरी होता है।

Q3. Hosting खरीदने में कितने पैसे खर्च होते हैं।

यह आप के ऊपर है कि आप कैसी होटिंग खरीदना चाहते हैं। Hosting कम से कम 79 रुपये प्रति महीने में खरीद सकते हैं।

Q4. Free Web Hosting कैसे काम करती है?

Free Web Hosting बिल्कुल Paid Hosting की तरह काम करती है, लेकिन इसमें Security, Customer Service आदि लिमिट में मिलती है।

ये लेख भी पढ़ें:-

अंतिम शब्द – Hosting Kya Hai

इस पोस्ट में आपको काफी आसान में यह बताने की कोशिश की है की Web Hosting Kya Hai। इस लेख को पढ़ने के बाद आप अपने लिए एक अच्छी होस्टिंग खरीद सकते हैं।

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आयी हो या इससे पोस्ट से आपने कुछ सीखा हो इसे आप अपने दोस्तों के साथ अवश्य शेयर करें। ताकि उनकी भी मदद हो सके। आप हमें कमेन्ट करके अपने सवाल पूछ सकते हैं।

Share To:

Ashish Kumar इस ब्लॉग के Founder हैं, जो कि Professional Blogger हैं, इस ब्लॉग पर आपको Online और Offline पैसे कमाने से संबंधित सारी जानकारी मिलेगी। जिसकी मदद से आप भी पैसे कमा सकते हैं। Blogging या Make Money से संबंधित आपका कोई सवाल है, तो आप बेझिझक पूछ सकते हैं।

Leave a Comment