Technical SEO Kya Hai और Technical SEO कैसे करें? यहाँ जाने 12 Best तरीके

Technical SEO Kya Hai
Technical SEO Kya Hai

Technical SEO Kya Hai –जब SEO की बात होती है, तो ज्यादातर On Page SEO और Off Page SEO के बारे में ही चर्चा होती है। जिसके कारण Beginner को Technical SEO का ज्यादा ज्ञान नहीं होता है।

जिसके कारण उन्हे उनकी मेहनत की अपेक्षा उतनी सफलता प्राप्त नहीं होती है। क्योंकि आज के समय में SEO बहुत ज्यादा Advance हो चुका है। बिना Technical SEO के किसी भी वेबसाइट को सर्च रिजल्ट में रैंक करवाना बहुत मुश्किल काम है।

Technical SEO, On Page और Off Page की तरह SEO का एक प्रकार है। किसी भी वेबसाइट को सर्च रिजल्ट पेज में रैंक करवाने के लिए Technical SEO एक बहुत ही महत्वपूर्ण Factor है।

आप अपनी वेबसाइट पर कितना अच्छा On Page SEO और Off Page SEO कर लें लेकिन बिना Technical SEO के वेबसाइट को रैंक करवाना बहुत मुश्किल होता है।

अब अगर आपके मन यह सवाल चल रहे हैं कि Technical SEO Kya Hai? Technical SEO Kaise Kare? तो इन सभी सवालों के जवाब पाने के लिए आप इस लेख को अंत तक पढ़ें, क्योंकि हम इस लेख में Technical SEO से संबंधित सारी जानकारी आपको प्रदान करने वाले हैं।

तो ज्यादा समय न वर्बाद करते हुए सीधा चलते हैं अपने लेख पर और विस्तार से जानने की कोशिश करते हैं कि Technical SEO क्या है? Technical SEO कैसे करें?

Technical SEO क्या है? (Technical SEO Kya Hai?)

जब हम अपनी वेबसाइट को सर्च इंजन रिजल्ट पेज में रैंक करवाने के लिए के जो भी Technical सुधार करते हैं। उसे Technical SEO कहा जाता है।

अपकी वेबसाइट पर मौजूद Content से Technical SEO का कोई मतलब नहीं होता है। जैसे- Keyword Placement, Meta Tag, Internal Linking, External Link आदि।

इसके SEO के अंर्तगत Website Speed, Domain Name, Website Layout, XML Sitemap, Robots.txt File जैसी आदि चीजे आती हैं। संक्षेप में समझें तो Technical SEO का On Page SEO और Off Page SEO से कोई मतलब नहीं होता है।

Technical SEO Checklist in Hindi

किसी भी वेबसाइट का Technical SEO जिस आधार पर किया जाता है। उसकी Checklist मैंने आपको नीचे प्रदान की है। जिसे आप पढ़कर अपनी वेबसाइट में फॉलो कर सकते हैं।

  1. Domain Name
  2. Install SSL Certificate
  3. Create XML Sitemap
  4. Optimize Robots.txt File
  5. Website Design
  6. Loading Speed
  7. Mobile Friendly
  8. Use Schema Markup
  9. Fix Broken Link
  10. Reduce Spam Score
  11. Add Canonical Tag
  12. Check Google Search Console

Technical SEO कैसे करें? (Technical SEO Kaise Kare)

अगर आपने यहाँ तक यह लेख पढ़ लिया है, तो आपको Technical SEO Kya Hai? इसका थोड़ा बहुत ज्ञान हो गया होगा। अब हम जानते हैं कि Technical SEO कैसे करें?

#1 – Domain Name, www तथा बिना www के एक्सेस होना चाहिए

जब आप Blog या Website बनाने के लिए Domain Name को खरीदते हैं, तभी से Technical SEO की शुरुआत कर देते हैं। इसलिए आपको हमेशा Top Level Domain को ही खरीदना चाहिए।

जो www तथा बिना www के एक्सेस हो सके। अगर आपका डोमेन नेम इनसे किसी एक पर एक्सेस नहीं होता है, तो यह आपके Technical SEO पर बहुत बुरा प्रभाव डालता है।

#2 – SSL Certificate Install करें

SSL Certificate गूगल की 200+ रैंकिग फैक्टर में आता है तथा यह युजर्स को यह सिग्नल भी देता है कि आपकी वेबसाइट पूर्णता Secure है। जिसके कारण SSL Certificate को अपनी वेबसाइट पर अवश्य की Install करें।

#3 – XML Sitemap बनायें

अगर आप चाहते हैं कि सर्च इंजन बोट्स आपकी वेबसाइट को जल्दी से Craw और Index करें, तो आपकी अपनी वेबसाइट के लिए XML Sitemap बनाकर और उसे गूगल सर्च कंसोल में सबमिट करना होगा।

XML Sitemap किसी भी वेबसाइट का एक मैप तैयार कर देता है। जिसके बाद सर्च इंजन बोट्स वेबसाइट को आसानी से क्रॉल कर पाते हैं।

#4 – Robots.txt File बनायें

Robots.txt Fileसर्च इंजन बोट्स को यह बताती है इस वेबसाइट पर मौजूद कंटेंट कि तरह से क्रॉल करना है। क्योंकि जब सर्च इंजन क्रॉलर किसी वेबसाइट को क्रॉल करने आते हैं।

तो सबसे पहले वह उस वेबसाइट की Robot.txt File को तलाश करते हैं। जिसमें उन्हे यह संकेत मिलते हैं कि वह वेबपेज को क्रॉल करें अथवा किस वेबपेज क्रॉल न करें।

अगर आपकी वेबसाइट पर Robots.txt File नही होगी तो सर्च इंजन क्रॉलर आपकी पूरी वेबसाइट को क्रॉल करने लगेंगे। जिससे आपके महत्वपूर्ण वेबपेज क्रॉल होने से छूट सकते हैं।

क्योंकि सर्च इंजन क्रॉलर के पास आपकी वेबसाइट को क्रॉल करने के लिए एक लिमिटेड समय होता है। जिसे Crawl Budget कहा जाता है। इस समस्या से बचने के लिए आप अपनी वेबसाइट के लिए Robots.txt File अवश्य बनायें।

#5 – Website की Design सिम्पल और साधारण रखें

अगर आप अपने युजर्स के अनुभव बेहतर बनाना चाहते हैं तथा अपनी वेबसाइट के Bounce Rate और Exit Rate को कम रखना चाहते हैं, तो आपनी Website की Design को सिम्पल और साधारण रखें। इसे ज्यादा चमक – धमक वाला न बनायें।

#6 – Website की Speed को Fast रखें

किसी भी Website की Speed अगर Fast है, तो उसके सर्च रिजल्ट पेज में रैंक करने चांस ज्यादा होते हैं। क्योंकि वेबसाइट की स्पीड SEO की दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण होती है।

अगर आपकी वेबसाइट की लोड़िंग स्पीड होगी तो युजर आपकी वेबसाइट को छोड़कर चला जायेंगा। जिससे आपकी वेबसाइट की रैंकिंग डाउन हो जायेगी। Website की Speed को फास्ट करने के लिए आप WP- Rocket प्लगइन का उपयोग कर सकते हैं।

#7 – Mobile Friendly वेबसाइट बनायें

आपकी वेबसाइट का मोबाइल फ्रेंडली होना बहुत जरूरी है क्योंकि आज के समय में 57% युजर्स अपनी कोई जानकारी हाँसिल करने के लिए मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हैं।

अगर आपकी वेबसाइट मोबाइल फ्रेंडली नहीं होगी तो अन्य वेबसाइटों की अपेक्षा आपकी वेबसाइट पर 60 से 70 प्रतिशत कम Traffic आयेगा।

अपनी वेबसाइट को मोबाइल फ्रेंडली बनाने के लिए आप Generatepress थीम का उपयोग कर सकते हैं। यह एक Lightweight थीम है। इसके अलावा आप AMP प्लगइन को Install करने अपनी वेबसाइट को मोबाइल फ्रेंडली बना सकते हैं।

जाने अनजाने में वेबसाइट में कई Broken Link बन जाते हैं। जिसके कारण वेबसाइट पर 404 का Error आने लगता है। जो कि SEO पर बुरा प्रभाव ड़ालता है। अगर आपकी वेबसाइट पर ब्रोकन लिंक हैं, तो Find करके अभी के अभी Fix कर दें।

#9 – Spam Score कम करें

Spam Score किसी भी वेबसाइट पर जब बढ़ता है जब उस पर अधिक संख्या में Bad Backlink बन जाते हैं। जिससे किसी भी वेबसाइट की रैंकिंग डाउन हो जाती है।

अगर आप चाहते हैं कि आपकी वेबसाइट का Spam Score न बढ़े तो Google Disavow Tool की मदद से सारे Bad Backlink तलाश कर उन्हे Disavow कर दें।

#10 – Schema Markup Add करें

Schema Markup एक HTML Tag होता है। जो सर्च इंजन को आपकी वेबसाइट की महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करता है। इसके उपयोग से वेबसाइट का CTR बढ़ता है।

इसका उपयोग सर्च रिजल्ट पेज में Rich Snippet दिखाने के लिए किया जाता है। इसके उपयोग करने के लिए आप किसी भी SEO Plugin का उपयोग कर सकते हैं।

#11 – Canonical Tag को Add करें

Canonization, Technical SEOका एक बहुत ही महत्वपूर्ण फैक्टर होता है। जब किसी वेबसाइट पर एक ही वेबपेज के एक से अधिक URL बन जाते हैं, तो वेबसाइट में डुप्लीकेट कंटेंट की समस्या को Solve करने के लिए Canonical Tagका उपयोग किया जाता है।

इसका उपयोग करने से सर्च इंजन के बोट्स Main URL को Index करते हैं, तथा बाकि सभी Similar URL को Ignore कर देते हैं।

#12 – Google Search Console में आने वाले Error को Fix करें

समय समय पर Google Search Consoleमें आने वाले सभी Error को Fix करते रहें। इन Error को फिक्स करने से आपकी वेबसाइट का Technical SEO बहुत ज्यादा Improve हो जाता है।

Technical SEO इतना महत्वपूर्ण क्यों है?

Technical SEO सर्च रिजल्ट पेजपर किसी भी वेबसाइट के प्रदर्शन को बहुत ज्यादा प्रभावित कर सकता है।यदि आपकी साइट के वेबपेज सर्च इंजनों के लिए रैंकिंग के योग्य नहीं हैं, तो वे सर्च रिजल्ट में दिखाई नहीं देंगे या रैंक नहीं करेंगे, फिर चाहे आपका कंटेंटकितना भी मूल्यवान क्यों न हो।

जिसके कारण आपकी वेबसाइट पर ट्रैफ़िक कमी आ सकती है। साथ ही, किसी वेबसाइट की वेबपेज की लोड़िंगस्पीड और मोबाइल फ्रेंडली, Google द्वारा पुष्टि किए गए रैंकिंग फैक्टर हैं।

यदि आपके पेज धीरे-धीरे लोड होते हैं, तो युजर्स नाराज़ होकर आपकी वेबसाइट छोड़कर जा सकते हैं। इससे गूगल की नजर में आपकी नकारात्मक छवि बनती है।

जिसके कारण गूगल आपकी वेबसाइट की रैंकिंग को प्रभावित करता है। जिसके कारण आज के समय में Technical SEO इतना महत्वपूर्ण हो गया है।

अंतिम शब्द –Technical SEO Kya Hai

आज के इस लेख में हमने आपको Technical SEO Kya Hai? और Technical SEO Kaise Kare? के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्रदान की हैं। क्योंकि किसी भी वेबपेज को सर्च इंजन रिजल्ट पेज के टॉप पर रैंक करवाने में Technical SEOबहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

इसीलिए आपको इस लेख में बतायें गये सभी तरीकों को अच्छे से और समझकर पढ़ना है। मुझे आशा है इस लेख से आपकी बहुत कुछ मदद हुई होगी। अगर ऐसा है तो इस लेख को सोशल मीडिया पर अपने मित्रों के साथ अवश्य शेयर करें।

Share To:

Ashish Kumar इस ब्लॉग के Founder हैं, जो कि Professional Blogger हैं, इस ब्लॉग पर आपको Online और Offline पैसे कमाने से संबंधित सारी जानकारी मिलेगी। जिसकी मदद से आप भी पैसे कमा सकते हैं। Blogging या Make Money से संबंधित आपका कोई सवाल है, तो आप बेझिझक पूछ सकते हैं।

Leave a Comment