गूगल में रैंक हो ऐसी SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe? जाने 15+ Best तरीके

SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe: आप इस आर्टिकल को पढ़ रहे हैं, तो इसका मतलब यह कि आप एक ब्लॉगर हैं और बहुत मेहनत से आर्टिकल लिखने के बाद भी वह गूगल में रैंक नहीं कर रहे हैं।

इसके बाद आपके मन में सवाल आ रहा है कि आखिर SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट कैसे लिखें?  जो Google में Rank करे, और आप इस सवाल का जवाब हासिल करना चाहते हैं,

तो आप बिल्कुल सही लेख पर आए हैं क्योंकि आज के इस लेख में हम आपको विस्तार से बताएंगे कि कैसे आप एक एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट लिख सकते हैं, जो गूगल में रैंक भी करेगी।

किसी व्यक्ति द्वारा Blog बनाने का मकसद उससे ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाने का होता है, लेकिन किसी ब्लॉग से पैसे तभी कमाया जा सकते हैं।

जब उस पर अच्छा खासा ट्रैफिक आता है। ब्लॉग पर Traffic तब आता है। जब उस पर पब्लिश की गई पोस्ट सर्च इंजन रिजल्ट पेज के टॉप में रैंक करती हैं। SERPs में पोस्ट को रैंक करवाने के लिए उसको एसईओ फ्रेंडली बनाना बहुत जरूरी होता है।

आज के इस लेख में हम आपको एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट क्या है? एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट लिखना क्यों महत्वपूर्ण है? SEO Friendly Article कैसे लिखें?

तो चलिए ज्यादा समय न लेते हुए सीधा चलते हैं अपने लेख पर और विस्तार से जानते हैं कि SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट कैसे लिखें?

Table of Contents

SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट क्या है?

SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe
SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe

SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट कैसे लिखें? जानने से पहले आपको यह जानना बहुत जरूरी है कि एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट क्या है? ये आपको पता ही होगा कि SEO का मतलब Search Engine Optimization होगा।

एक ऐसी ब्लॉग पोस्ट जिसे गूगल सर्च रिजल्ट पेज में रैंक करवाने के लिए सर्च इंजन के अनुसार Optimize किया जाता है। उसे एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट कहा जाता है।

एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट लिखने का उद्देश्य उसे SERPs में Top पर रैंक करवाने का होता है। जिसके कारण ब्लॉग का Traffic बढ़ता है। इसके लिए ब्लॉग पोस्ट को इस प्रकार से Optimize किया जाता है।

जिससे Search Engine Boats को समझने में आसानी होती है। जब सर्च इंजन के बोट्स किसी भी पोस्ट को आसानी से समझ जाते हैं, तो वे सही कीवर्ड पर आसानी से रैंक करते हैं।

आप अपने ब्लॉग पर एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट लिखकर उसका Traffic बढ़ा सकते हैं।

SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट लिखना क्यों जरूरी है?

यदि आप एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट नही लिखते हैं, तो आपके ब्लॉग पोस्ट के SERPs में Top पर रैंक करने के Chance 99.99% भी नहीं होंगे।

जब आपके ब्लॉग पोस्ट की रैंकिंग कम होगी, तो आप अपनी Target Audience को आकर्षित नही कर पायेंगे। इससे आपकी पोस्ट कम विश्वसनीय और Authoritative लग सकती है।

2020 के सर्च इंजन Journal Study के अनुसार जो पोस्ट SERPs में पहले स्थान पर रैंक करती है उसकी CTR 25% दूसरे नंबर की CTR 15% वहीं इसके बाद 10 नंबर तक यह CTR घटकर मात्र 2.5% रह जाता है।

इसके अलावा यदि पोस्ट गूगल के दूसरे पेज पर है, तो उसकी CTR न के बराबर होगी।

इसका सीधा सा मतलब है कि यदि आपकी पोस्ट SERPs के पहले पेज में रैंक नहीं है, तो वो युजर्स की नजर नहीं आयेगी।

जिसके के कारण आपके ब्लॉग पर Traffic कम आयेगा। जिसका प्रभाव आपके ब्लॉग की कमाई पड़ेगा।

आपना अपना ब्लॉग पैसे कमाने के लिए बनाया है, तो आप इस Traffic लाने के लिए पैसे खर्च नहीं करना चाहेंगे।

इसलिए आपको SEO पर ज्यादा ध्यान देना होगा और अपने ब्लॉग के लिए SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट लिखनी होंगी।

SEO पूरी तरह से फ्री होता है और इसकी मदद से आने वाला Traffic लंबे समय के लिए रहता है। बस इसके लिए आपको अपना खर्च करना होगा।

जो कि ज्यादा कठिन काम नहीं है, क्योंकि आप इतनी मेहनत करके ब्लॉग पोस्ट लिखते हैं, उस मेहनत आप थोड़ समय के कारण वर्बाद नहीं करेंगे।

SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट कैसे लिखें?

SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट लिखते समय आपको कुछ मूल बातों का समझना बहुत महत्वपूर्ण है। हम आपको नीचे कुछ महत्वपूर्ण बुनियादी सिद्धांत बता रहे हैं, जो आपको एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट लिखने में मदद करेंगे।

#1 – Keyword Optimization

Keyword Optimization आपके Content की Visibility और Ranking को बढ़ावा देने के लिए Relevant Keywords और वाक्यांशों का रणनीतिक रूप से उपयोग करने के बारे में है।

SEO का यह पहलू बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि यह Search Engine को आपके Content को बेहतर ढंग से समझने में मदद करता है।

जिससे SERPs में उससे संबंधित Keyword पर आपकी पोस्ट रैंक करती है। जिसके कारण ब्लॉग का ऑर्गेनिक ट्रैफ़िक बढ़ता है।

#2 – Search Intent या User Intent

Users सर्च इंजन में जब कोई Query सर्च करते हैं, तो उसके पीछे कुछ उद्देश्य होता है। बस इसे ही Search Intent या User Intent कहा जाता है। आम तौर पर Search Intent या User Intent निम्नलिखित 4 प्रकार के होते हैं।

  • Informational Intent: जब कोई युजर जानकारी या अपने प्रश्नों के उत्तर हाँसिल करना चाहते हैं, तो वह सर्च इंजन में क्या, कैसे, शोध सामग्री आदि की तलाश करते हैं।
  • Navigational Intent: जब युजर्स को पहले ही पता होता है कि उन्हे क्या करना है, तो वे सीधे उस ब्लॉग/वेबसाइट या ब्रांड पर पहुंच जाते हैं। जिसके बाद किसी वेबपेज को Navigate करने के लिए सर्च इंजन का इस्तेमाल करते हैं।
  • Transactional Intent: जब युजर्स कोई एक्शन जैसे Online खरीदारी, किसी सेवा की सदस्यता, बैंकिंग पेमेंट आदि कुछ करता है। Transactional Intent कहलाता है।
  • Commercial Intent: जब युजर्स कुछ खुरीदने से पहले उसके बारे में Research करता है, तो उसे Commercial intent कहा जाता है।

आप अपने युजर्स के Intent को समझकर ऐसी ब्लॉग पोस्ट लिखें जो उनकी Query के अनुरूप हो। जिससे आपकी पोस्ट SERPs में रैंक कर सकती है।

आप युजर्स के Intent को समझने के लिए Google Search Console या किसी भी SEO Tool का इस्तेमाल कर सकते हैं।

#3 – Readability

एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट लिखने का मतलब सिर्फ इतना ही नहीं कि उसमें क्या लिखें बल्कि इसमें आपको कैसे लिखना है। पोस्ट में खाली Keyword का सही से इस्तेमाल करना ही काफी नहीं है।

आपको एक बार ब्लॉग पोस्ट पढ़ने के बाद यह विचार करना है कि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद युजर्स का अनुभव कैसे होगा।

यदि आपका अनुभव अच्छा होगा, तो युजर्स का भी अनुभव अच्छा होगा। आपको अपने ब्लॉग पोस्ट की Readability पर ध्यान देना होगा। क्योंकि आपकी ब्लॉग पोस्ट जितनी सरल भाषा में लिखी होगी।

युजर्स को उसे पढ़ने में मज़ा आयेगा और वह सब कुछ आसानी से समझ जायेगा। जिसके बाद वह आपके ब्लॉग पर बार-बार आयेगा।

#4 – Historical Optimization

Historical Optimization का मतलब है पुरानी पोस्ट को समय-समय पर सर्च इंजन के अनुसार Optimize करना क्योंकि बहुत सी सदाबहार पोस्ट होती हैं, जो समय के साथ कभी-भी पुरी तरह समाप्त नहीं होती हैं।

चाहें जितने गूगल एल्गोरिदम अपडेट आयें। बस एल्गोरिदम अपडेट के साथ इनकी रैंकिंग Down हो जाती है। जिसके बाद आपको उस ब्लॉग को Optimize करके उसकी रैंकिंग को Improve कर देना है।

आप समय-समय पर अपनी ब्लॉग पोस्ट को Update करते रहें।

(15+ तरीके) SEO Friendly आर्टिकल कैसे लिखें? जो Google में Rank करें

SEO Friendly आर्टिकल लिखना उतना भी कठिन नही है। जितना की आप समझते हैं। बस आर्टिकल लिखते समय आप मेरे द्वारा बताए गए इन तरीकों को फॉलो करें।

इनकी मदद से आप बड़ी आसानी से एसईओ फ्रेंडली आर्टिकल लिख पाएंगे, तो चलिए जानते हैं इन 15+ तरीकों के बारे में जिनकी मदद से आप एक एसईओ फ्रेंडली आर्टिकल लिख सकते हैं।

#1 – अच्छे से Keyword Research करें

एसईओ फ्रेंडली आर्टिकल लिखने तथा Blogging में सफलता हासिल करने के लिए अच्छे से Keyword Research करना बहुत जरूरी है।

क्योंकि इसकी मदद से आप ऐसे Keyword को Select करते हैं, जो Low Competition होने के साथ-साथ High Search Value वाले होते हैं।

क्योंकि ऐसे Keyword को आप आसानी से SERPs में रैंक करवा सकते हैं, वहीं यदि आपने High Competition Keyword को सेलेक्ट किया, तो आपको अपने आर्टिकल को रैंक करवाने में सालों लग जाएंगे।

Keyword Research करने के लिए आप Free या Paid Keyword रिसर्च टूल का इस्तेमाल कर सकते हैं। यदि आप एक नए ब्लॉगर हैं, तो मेरी राय में आप Long Tail Keyword को ही टारगेट करें, क्योंकि इस प्रकार के कीवर्ड आसानी से रैंक करवा जाते हैं।

#2 – Title में Focus Keyword का इस्तेमाल करें

आप अपने ब्लॉग पोस्ट की Title को Attractive और Catchy बनायें तथा सबसे महत्वपूर्ण बात में ब्लॉग पोस्ट के Title में Focus Keyword का इस्तेमाल जरूर करें।

#3 – First Paragraph में Focus Keyword का इस्तेमाल करें

आप जब भी कोई ब्लॉग पोस्ट लिखते हैं, तो उसकी शुरूआत Introduction के साथ करें तथा पोस्ट के First Paragraph में Focus Keyword का इस्तेमाल करें।

#4 – Description में Focus Keyword का इस्तेमाल करें

आपने पोस्ट में क्या बताया है Description सर्च इंजन रिजल्ट पेज में युजर्स को बताती है। इसको आप अधिकतम 160 शब्दों में लिख सकते हैं।

आप जब भी अपनी पोस्ट की Description लिखें, तो उसकी शुरूआत में Focus Keyword का इस्तेमाल जरूर करें।

#5 – Image SEO करें

आप अपने ब्लॉग में इस्तमाल की जाने वाली सभी Photo का Image SEO करें। इसमें आपको Image का नाम, Image का Alt Tag, Image का Caption आदि चीजों को सही तरह से Optimize करना है।

इसकी मदद से आप सर्च इंजन को अपनी ईमेज के बारे में अच्छे से बताते हैं। Image Alt Tag में आप अपने Focus Keyword का इस्तेमाल जरूर करें।

#6 – Heading और Subheading का इस्तेमाल करें

आपको ब्लॉग पोस्ट लिखते समय में उसमें Heading और Subheading (H2, H3, H4, H5) आदि का सही से इस्तेमाल करना है।

क्योंकि Heading के सही इस्तेमाल से Visitors को पता चलता है कि आप क्या बताने वाले हैं। इसे ब्लॉग का युजर अनुभव बेहतर होता है।

#7 – महत्वपूर्ण Keyword को Bold करें

ब्लॉग पोस्ट लिखते समय आप उसमें महत्वपूर्ण Keyword को Bold करें। इससे युजर्स तथा सर्च इंजन आपकी कीवर्ड पर आसानी से Focus कर लेता है।

आप सिर्फ महत्वपूर्ण कीवर्ड को ही Bold करें ऐसा नहीं कि आप बहुत ज्यादा कीवर्ड को Bold कर दें।

#8 – Post में Keyword Density ज्यादा न रखें

आप अपनी पोस्ट में Keyword Density 1% से 2% के बीच में रख सकते हैं। पोस्ट को जल्दी रैंक करने के लिए Keyword Stuffing न करें।

#9 – High Quality और युनिक आर्टिकल लिखें

किसी ब्लॉग पोस्ट को सर्च इंजन पेज में रैंक करवाने के लिए उसमें High Quality Content लिखना बहुत जरूरी है क्योंकि आप कितना ही SEO क्यों न कर लें।

यदि आपने High Quality और युनिक आर्टिकल नहीं लिखा है, तो वह कभी भी SERPs में रैंक नहीं करेगा।

#10 – External Linking करें

आप अपने ब्लॉग पोस्ट में रिफ्रेंस के लिए External Linking जरूर करें। आप उन्ही वेबसाइट से External Linking जिनकी Authority High हो।

अच्छे से External Linking करने से आपके ब्लॉग की Page Authority बढ़ती है।

#11 – Internal Linking करें

ब्लॉग पोस्ट लिखते समय आप Internal Linking अच्छे से करें क्योंकि इस आपके ब्लॉग का Bounce Rate कम होता है, तथा सर्च इंजन Bots को आपने ब्लॉग को Crawl करने में आसानी होती है। जिससे आपका SERPs में जल्दी रैंक कर जाता है।

#12 –  SEO Friendly URL बनायें

आपको ब्लॉग पोस्ट के URL को SEO Friendly बनाना है। इसके लिए आपको उसमें अपने Focus Keyword का इस्तेमाल करना है तथा उसकी Length छोटी से छोटी रखनी है।

आप नीचे दिये गये उदाहरण से समझ सकते हैं कि आपको अपने ब्लॉग का URL कैसे बनाना है।

  • SEO Friendly URL – a2zhindime.com/blog-kya-hai
  • Without SEO Friendly URL – a2zhindime.com/blog-kya-hai-blog-kaise-banaye

#13 –  Blog पर Long Article लिखें

Google को वो आर्टिकल ज्यादा पसंद आते हैं जो युजर्स की Query को पूरी तरह Solve करते हैं। ऐसे में आपको अपने ब्लॉग पर Long और Full Detail वाले आर्टिकल लिखें।

यदि आपका ब्लॉग हिंदी में है, तो 1000 से 2000 शब्दों तथा यदि आपका ब्लॉग English में है तो 1500 से 3000 शब्दों का आर्टिकल लिखें।

इससे आपका विजिटर पूरी तरह से संतुष्ट हो तथा आप उसमें ज्यादा Ads लगाकर Google AdSense से अधिक पैसे भी कमा सकते हैं।

#14 – LSI Keyword का इस्तेमाल करें

आपको अपनी ब्लॉग पोस्ट में LSI Keyword यानि Latent Semantic Indexing का भी इस्तेमाल करना है।

LSI Keyword का हिंदी मतलब Main Keyword से समानता रखने वाले Similar या Related Keyword होता है। LSI Keyword आपके पोस्ट को गूगल सर्च में रैंक करने में मदद करते हैं।

#15 – Post में Video का इस्तेमाल करें

आप अपनी ब्लॉग पोस्ट में टॉपिक से संबंधित YouTube Video को भी जरूर Add करें। ऐसा करने से आपके ब्लॉग पोस्ट पर आने वाला युजर पूरी तरह संतुष्ट हो जाता है।

क्योंकि जब उसे आपके आर्टिकल में कुछ समझ में नहीं आता है, तो वह वीडियों देखकर समझ जाता है।

जिससे आपके ब्लॉग का युजर अनुभव बेहतर होगा। ऐसा करने से आपकी ब्लॉग पोस्ट का SEO बेहतर होता है, जो आपके ब्लॉग की रैंकिंग के लिए महत्वपूर्ण होता है।

#16 – Blog Post की Grammar सही रखें

आप ब्लॉग पोस्ट की सरल भाषा में लिखें। जिसे कोई विजिटर आसानी से पढ़ सके। इसके अलावा आपको अपनी पोस्ट की Grammar सही रखना है।

क्योंकि ये ब्लॉग के SEO में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। आप इन सभी तरीकों का इस्तेमाल करके एक SEO Friendly Article लिख सकते हैं।

ये लेख भी पढ़ें:

FAQ –  SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe

Q1 – SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट कितने शब्दों का होना चाहिए?

Yoast SEO प्लगइन के अनुसार एसईओ फ्रेंडली ब्लॉग पोस्ट कम से कम 300 शब्दों तथा Rank Math SEO प्लगइन के अनुसार SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट कम से कम 600 शब्दों की होती है।

Q2 – Blog Post कितने शब्दों की लिखें?

Topic के अनुसार आप 1500 से 2500 शब्दों की एक SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट लिख सकते हैं।

Q3 – SEO Friendly आर्टिकल कैसे लिखें?

आप मेरे द्वारा बताये इन 16 तरीकों का इस्तेमाल करके SEO Friendly आर्टिकल लिख सकते हैं।

Q4 – क्या ब्लॉग पोस्ट का SEO Friendly होना जरूरी है?

जी हाँ। ब्लॉगिंग में सफलता हाँसिल करने के लिए ब्लॉग पोस्ट का SEO Friendly होना जरूरी है।

अंतिम शब्द – SEO Friendly Article Kaise Likhe

आज के इस लेख SEO Friendly Blog Post Kaise Likhe? में हमने आपको 16 ऐसे तरीके बताये हैं। जिनका इस्तेमाल करके आप अपनी ब्लॉग पोस्ट को बड़ी आसानी से एसईओ फ्रेंडली बना सकते हैं।

यदि आपको किसी भी प्रकार की कोई समस्या आ रही है, तो आप मुझसे कमेंट करक पूछ सकते हैं। हम आपकी हर संभव पूरी मदद करेंगे।

मुझे आशा है कि आज का लेख SEO Friendly ब्लॉग पोस्ट कैसे लिखें? आपको बेहद पसंद आया होगा। ऐसा है, तो आप इस लेख को अपने मित्रों के साथ सोशल मीडिया पर अवश्य शेयर करें।

यदि आप ब्लॉगिंग सीखना चाहते हैं, तो आप इस ब्लॉग पर बने रहें क्योंकि हम हर रोज ब्लॉगिंग से संबंधित आर्टिकल इस ब्लॉग पर पब्लिश करते हैं।

Share To:

Ashish Kumar इस ब्लॉग के Founder हैं, जो कि Professional Blogger हैं, इस ब्लॉग पर आपको Online और Offline पैसे कमाने से संबंधित सारी जानकारी मिलेगी। जिसकी मदद से आप भी पैसे कमा सकते हैं। Blogging या Make Money से संबंधित आपका कोई सवाल है, तो आप बेझिझक पूछ सकते हैं।

Leave a Comment